Breaking News

बारां:आयुर्वेद चिकित्सकों ने संगोष्ठी कर मनाई महर्षि चरक जयंती

बारां 2 अगस्त। ब्लॉक के आयुर्वेदिक चिकित्सा अधिकारियों द्वारा मंगलवार को सत्संग भवन मार्ग स्थित राजकीय आयुर्वेद चल चिकित्सा इकाई परिसर में महर्षि चरक की जयंति मनाई गई। चल चिकित्सा इकाई प्रभारी डॉ. हरिशंकर मीणा ने बताया कि पूर्व उपनिदेशक डॉ. धर्मेन्द्र शर्मा, डॉ. रमेशचंद शर्मा आदि ने दीपप्रज्वलन कर संगोष्ठी का शुभारंभ किया। जिसमें डॉ. जितेन्द्र सिंह हाडा, आयुर्वेद चिकित्सक संघ डॉ. हेमराज सेन, डॉ. प्रेम दाधीच, डॉ. प्रिंसी कपूर, डॉ. नवीन वर्मा, डॉ. राजकुमार गोयल, डॉ. रमेश चंद मेहता, डॉ. सोहन नागर, योगाचार्य डॉ. नीरज यादव, डॉ. महेन्द्र मीणा आदि ने विचार व्यक्त किए। कम्पाउंडर शिव शंकर नागर, श्याम लाल  गोयल, सुरेन्द्र किराड, रामेश्वर शर्मा आदि ने महर्षि चरक के जीवन पर प्रकाश डाला। वक्ताओं ने बताया कि श्रावण मास शुक्ल पक्ष की पंचमी को आयुर्वेद के मर्मज्ञ चिकित्सक एवं चरक संहिता के रचियता महर्षि चरक का अवतरण हुआ। उन्होंने भारतवर्ष को ऐसी चिकित्सा पद्धति से लोगों को स्वास्थ्य प्रदान करने का अनुपम कार्य किया। महर्षि चरक ने सम्पूर्ण भारतवर्ष में घूमते हुए रोगी एवं पीड़ितजनोें की सेवा, दया एवं त्याग की भावना से चिकित्सा की तथा लोगो को स्वस्थ रहने के उपाय बताए। महर्षि चरक की प्रसिद्धी इतनी बढ गई कि उन्हें राजवैद्य का सम्मान प्राप्त हुआ। उनके द्वारा लिखित चरक संहिता आज भी वैज्ञानिक रूप से प्रासंगिक है। उन्होंने औषधियों, धातुओं, वन्य एवं प्राणियों से प्राप्त खाद्य सामग्री का सुक्ष्मतम विश्लेषण किया। डॉ. जितेन्द्र सिंह हाडा एवं डॉ. हेमराज सेन  ने महर्षि चरक के चिकित्सिय ज्ञान एवं वर्तमान में व्याप्त व्याधियों से अवगत कराया। कार्यक्रम में सहयोगकर्ता डॉबर इण्डिया लिमिटेड के प्रतिनिधि मुकुट सुमन रहे।

Check Also

पुर्नगठित मौसम आधारित फसल बीमा योजना में अमरूद की फसल शामिल

🔊 इस खबर को सुने बारां, 28 जुलाई। जिले में राजस्थान सरकार एवं भारत सरकार …

error: Content is protected !!