Breaking News

पुर्नगठित मौसम आधारित फसल बीमा योजना में अमरूद की फसल शामिल

बारां, 28 जुलाई। जिले में राजस्थान सरकार एवं भारत सरकार द्वारा क्रियान्वित पुर्नगठित मौसम आधारित फसल बीमा योजना में अमरूद फसल जिले में शामिल की गई है।
सहायक निदेशक उद्यान नन्द बिहारी मालव ने बताया कि वर्ष 2022-23 में अधिसूचित अमरूद फसल की बीमित राशि 63700 रूपए प्रति हैक्टर जिस पर कृषकों द्वारा देय अधिकतम प्रीमियम दर 5 प्रतिशत 3185 रूपए जमा करवाकर एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी ऑफ इण्डिया लिमिटेड से 31 जुलाई 2022 तक ई-मित्र अथवा कृषक की एसएसओ आईडी से अमरूद फसल का बीमा करवा सकते है।
योजना के उद्देश्य-
यह योजना मौसम की विषमताओं (प्रतिकूल मौसम जैसे वर्षा, तापमान, आर्द्रता इत्यादि द्वारा उपज की सम्भावित क्षति से कृषकों को भरपाई की जाती है।
योग्य किसान-
सभी कृषक (बटाई तथा किराये पर कृषि करने वाले) (आर.यू.ए) संदर्भ इकाई क्षेत्र में अधिसूचित फसल उगाने वाले सभी कृषक।
कवर किए जाने वाली जोखिम-
अधिसूचित फसल व संर्दभित इकाई क्षेत्र के लिए विभिन्न मौसमी जोखिम जैसे कम व अधिक वर्षा, लगातार सूखा दिवसों की अवधि, आद्रता, कम व अधिक तापमान, बेमौसम वर्षा एवं तेज हवा की गति इत्यादि से हुई हानि से सुरक्षा प्रदान करता है।
योजना का प्रचालन-
चयनित अधिसूचित संदर्भ इकाई क्षेत्रों (संदर्भ मौसम केन्द्र का क्षेत्र) में क्षेत्र दृष्टिकोण के आधार पर होगा अर्थात जोखिम स्वीकारने, मुआवजे का आंकलन करने तथा दर्शाए गए मौसम संबंधित प्रचालनों का उपयोग करने के लिए संदर्भ इकाई क्षेत्र को आधार माना जाएगा। बीमा आवरण एवं मुआवजे के आंकलन से संबंधित शर्तें अधिसूचित संदर्भ इकाई क्षे़त्रों में अधिसूचित फसलों की खेती करने वाले सभी बीमित कृषकों पर समान रूप से लागू होती है।
बीमा क्लेम की गणना-
भुगतान एवं दावा निपटारा एवं स्वचालित प्रक्रिया है जो कि आरडब्यूएस पर रिकार्ड की गई रीडिंग पर आधारित है। अधिसूचित फसल व संदर्भित इकाई क्षेत्र के लिए जिलेवार, तहसीलवार विस्तृत विवरण में अभिलेखित संबंधित जोखिमों के मौसम आकड़ों को निर्धारित जोखिम अवधियों के दौरान संदर्भ मौसम केन्द्र से प्राप्त आंकड़ों से मिलान एवं विशलेषण करके बीमा का आंकलन किया जाता है। दावा भुगतान स्वतः ही तहसील, ब्लॉक के संदर्भ मौसम स्टेशन पर एकत्रित मौसम के आंकड़ों द्वारा आंकलित कर दिया जाता है।

Check Also

बारां:आयुर्वेद चिकित्सकों ने संगोष्ठी कर मनाई महर्षि चरक जयंती

🔊 इस खबर को सुने बारां 2 अगस्त। ब्लॉक के आयुर्वेदिक चिकित्सा अधिकारियों द्वारा मंगलवार …

error: Content is protected !!