Breaking News
????????????????????????????????????

बारां जिले में जुलूस में डीजे पर रहेगा प्रतिबंध, जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक में हुआ निर्णय

बारां, 11 अप्रेल। जिला मजिस्टेªट व कलक्टर नरेन्द्र गुप्ता एवं पुलिस अधीक्षक कल्याणमल मीना की अध्यक्षता में आगामी अम्बेडकर जयंती, श्रीमहावीर जयंती, हनुमान जयंती, जमातुलविदा के अवसर पर जिले में शांति, सद्भावना व सौहार्द्ध बनाए रखने हेतु जिला स्तरीय शांति समिति के सदस्यों के साथ बैठक आयोजित की गई। बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि जिले में आगामी धार्मिक पर्व एवं महत्वपूर्ण दिवस पर जुलूस के दौरान डीजे के उपयोग पर प्रतिबंध रहेगा।
जिला कलक्टर नरेन्द्र गुप्ता ने कहा कि बारां जिला शांति एवं सद्भावना के लिए जाना जाता है अतः आपसी मेलजोल का भाव कायम रखा जाना चाहिए। राज्य सरकार की नवीन गाइड लाइन के अनुसार कानून व शांति व्यवस्था की दृष्टि से जुलूस, शौभायात्रा के आयोजन से पूर्व आयोजक व संस्था को निर्धारित प्रारूप में आवेदन पत्र संबंधित एसडीएम को प्रस्तुत करना होगा। इसी क्रम में आयोजनकर्ता द्वारा जिला प्रशासन द्वारा तय की गई शर्तों के अनुरूप जुलूस व शौभायात्रा निकालने के संबंध में शपथ पत्र भी प्रस्तुत करना होगा। पुलिस अधीक्षक कल्याणमल मीना ने कहा कि जिले में शांति व सौहार्द्ध बनाए रखने के लिए पुलिस के साथ शांति समिति के सदस्यों की भी अहम भूमिका है। वर्तमान परिदृश्य के तहत किसी भी आयोजन दिवस पर जुलूस व शौभायात्रा के दौरान अवांछित गतिविधि करने पर जीरो टॉलरेंस रखा जाएगा। यदि सोशल मीडिया पर कोई आपत्तिजनक पोस्ट व टिप्पणी हो जिससे शांति व्यवस्था भंग की संभावना हो तो शांति समिति के सदस्यों द्वारा इसकी सूचना पुलिस को दी जानी चाहिए। आयोजनकर्ता परम्परागत शौभायात्रा अथवा जुलूस मार्ग का ही उपयोग करेंगे और इस दौरान पुलिस द्वारा ड्रोन कैमरों का उपयोग किया जाएगा। यात्रा मार्ग के सीसीटीवी कैमरा को दुरूस्त रखना सुनिश्चित किया जाएगा। साथ ही उन्होंने कहा कि जुलूस में डीजे के माध्यम से आपत्तिजनक, गाने व नारे से शांति व्यवस्था प्रभावित हो सकती है। इस पर जिला स्तरीय शांति समिति के सदस्यों ने भी सुझाव प्रस्तुत किए और जिले में आपसी सहयोग व भाईचारे से विभिन्न आयोजन की बात कही। इसी क्रम में जिला स्तरीय शांति समिति ने सर्वसम्मति से निर्णय लिया कि जिले में आगामी पर्वों के तहत जुलूस व शौभायात्रा में डीजे एवं लाउड स्पीकर के उपयोग को प्रतिबंधित रखा जाना चाहिए एवं इसके स्थान पर बैंड का उपयोग किया जाना चाहिए। बैठक में नगर पालिकाओं को जुलूस व शौभायात्राओं के तहत फायर ब्रिगेड की व्यवस्था रखने के लिए निर्देश किया गया। जिला स्तरीय शांति समिति के सदस्यों द्वारा एक दूसरे के पर्व पर जुलूस व शौभायात्रा का पुष्पवर्षा, पेयजल सेवा के माध्यम से सत्कार व अभिनंदन की बात भी कही गई। इस अवसर पर एडीएम बृजमोहन बैरवा, जिले के समस्त उपखंड अधिकारी, पुलिस उपाधीक्षक मनोज गुप्ता, सीएलजी सदस्य, अधिकारीगण मौजू

Check Also

बारां:आयुर्वेद चिकित्सकों ने संगोष्ठी कर मनाई महर्षि चरक जयंती

🔊 इस खबर को सुने बारां 2 अगस्त। ब्लॉक के आयुर्वेदिक चिकित्सा अधिकारियों द्वारा मंगलवार …

error: Content is protected !!