Breaking News

इंदौर में दो दिवसीय ज्योतिष सम्मेलन में ” प्राइड ऑफ इंडिया अवार्ड ” से सुदर्शन शर्मा को किया सम्मानित

 

शाहाबाद.उपखंड मुख्यालय शाहाबाद कस्बे के सुदर्शन शर्मा को मां भुवनेश्वरी ज्योतिष वास्तु कर्मकांड संस्थान इंदौर के द्वारा ज्योतिष सम्मेलन दिनांक 26 मार्च एवं 27 मार्च को इंदौर में नरसिंह वाटिका में आयोजित किया गया जिसमें सुदर्शन शर्मा को प्राइड आफ इंडिया की उपाधि से सम्मानित किया गया शाहाबाद का कस्बे से ज्योतिष विद्या के क्षेत्र में शाहबाद का नाम रोशन किया एवं क्षेत्र के लोग ने उपाधि मिलने पर हर्ष एवं खुशी व्यक्ति की है ज्योतिषाचार्य डॉ पंडित राम शंकर तिवारी इंदौर राष्ट्रीय संगठन महामंत्री एवं सम्मेलन प्रभारी के द्वारा बताया गया इस सम्मेलन में देश से सैकड़ों लोग आए हुए थे दो दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें कर्मकांड अंक शास्त्र वास्तु शास्त्र स्वर शास्त्र स्वप्न विज्ञान मनोविज्ञान मुहूर्त 16 संस्कार आदि पर विस्तृत रूप से ज्योतिष आचार्यों द्वारा चर्चा की गई एवं ज्योतिष क्षेत्र में विशिष्ट योगदान देने को सम्मानित किया गया

कोरोना काल में बहुत कुछ सीखा/ शर्मा द्वारा बताया गया कि जब कोरोना कॉल चल रहा था सब लोग घरों में कोरोना महामारी को हराने के लिए प्रयास कर रहे थे उसी समय ग्रंथों का अनुसंधान और ऑनलाइन लोगों को परामर्श देना लोगों को ऊर्जावान बनाने के लिए उत्साहित करना आदि का काम किया जा रहा था जिसके चलते आज यह सफलता मिली है क्योंकि ज्योतिष विज्ञान हमेशा व्यक्ति को कर्म करने के लिए ऊर्जावान बने रहने के लिए प्रेरित करता है निराशा का ज्योतिष शास्त्र में कोई स्थान नहीं हमेशा ज्योतिष शास्त्र अनसुने हुए पहलुओं को खोजने का प्रयास करता रहता है

पिता भी थे महान ज्योतिष आचार्य // सुदर्शन शर्मा के पिता श्रवण कुमार शर्मा भी महान ज्योतिष आचार्य से उनसे ज्योतिष परामर्श ज्योतिष विज्ञान अनुष्ठान आदि कर्म के बारे में जानकारी लेने के लिए कई राज्यों से दिल्ली मुंबई ग्वालियर गुजरात जगह-जगह से लोग आते थे और उनके द्वारा की गई भविष्यवाणियां सही और सटीक साबित होती थी उनके देहांत के बाद सुदर्शन शर्मा द्वारा ज्योतिष शास्त्र मैं रुचि दिखाई गई और आज भारत के जाने-माने ज्योतिषाचार्य में गणना होती है वही सुदर्शन शर्मा द्वारा बताया गया ज्योतिष शास्त्र एक गहन विज्ञान है इसका अनुभव गणना के आधार पर ही गणना की जाती है और भविष्य में होने वाली घटनाओं या भूतकाल में होने वाली घटनाओं के बारे में बताया जाता है यह कोई काल्पनिक नहीं है भारतीय मनीषियों की एक अनोखी देन है जिसका लाभ पूरा विश्व ले रहा है आज भारत को विश्व गुरु बनाने के लिए जो प्राचीन हमारे ग्रंथ हैं जो विज्ञान हैं जिनका वैज्ञानिक दृष्टिकोण से काफी महत्व होता है कोई भी कैलेंडर से पहले पंचांग बता देता है कि आने वाले काल में क्या होना है क्या नहीं यह सब भारतीय मनीषियों द्वारा रचित ग्रंथों का खेल है ज्योतिष विश्वास है और एक अनुसंधान ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष अशोक कुमार शर्मा कैलाश शर्मा भीमा शंकर व्यास गणेश शर्मा हरिशंकर शर्मा आदि ने क्षेत्र का नाम रोशन करने के लिए बधाई दी

error: Content is protected !!